Welcome to studycart foundation

Be part of the community and join us today!

career in aviation industry

पिछले कुछ वर्षों में एविएशन इंडस्ट्री मंदी की शिकार रही है परन्तु धीरे-धीरे इसके विकास तथा विस्तार की रफ्तार फिर से तेज हो रही है।
 
अन्तर्राष्ट्रीय बाजार में इंधन की कम कीमत, लो कास्ट करियर्स का विस्तार तथा देश में बेहतर आर्थिक माहौल इस रफ्तार का कारण है। 2020 तक भारत की एविएशन इंडस्ट्री के दुनिया में तीसरे स्थान पर पहुँच जाने की सम्भावना है।
 
यह इंडस्ट्री छात्रों के लिए एक बेहतर करियर आप्शन के रूप में देखी जा रही है जिसमे अलग-अलग स्तरों पर रोजगार की बेहतर संभावनाएँ अच्छे पैकेज के साथ मौजूद हैं। यहाँ पर फ्लाइट सर्विसेज, केबिन क्रू, एयर ट्रैफिक कंट्रोल, ग्राउंड लेवल ड्यूटी, एयरोनॉटिकल इंजीनियरिंग, रिजर्वेशन एंड मार्केटिंग, कस्टमर सपोर्ट आदि विभागों में अच्छे पैकेज के साथ बहुत सी नौकरियाँ उपलब्ध हैं।
 
पायलट तथा एयर होस्टेस के जॉब को एविएशन इंडस्ट्री में सबसे अधिक ग्लैमरस जॉब में शुमार किया जाता है। ये दोनों जॉब बहुत चुनौतीपूर्ण होते हैं क्योंकि इनके काम के घंटे अक्सर निश्चित नहीं होते हैं तथा लम्बी अवधि के लिए घर से बाहर रहना भी पड़ता है।
 
इस इंडस्ट्री में अलग-अलग नौकरियों के लिए अलग-अलग योग्यताएँ चाहिए होती हैं। बारहवीं के पश्चात इस इंडस्ट्री में प्रवेश के रास्ते खुल जाते हैं। बैचलर डिग्री लेने के पश्चात भी इसमें प्रवेश पाया जा सकता है। एयरोनॉटिकल इंजीनियरिंग तथा कस्टमर सपोर्ट एग्जीक्यूटिव के पदों के लिए इंजीनियरिंग तथा मैनेजमेंट की डिग्री आवश्यक होती है। केबिन क्रू तथा एयर ट्रैफिक कंट्रोल जैसे विभागों के लिए स्नातक स्तरीय डिग्री आवश्यक होती है।
 
एयर होस्टेस तथा पायलट के लिए डिग्री के साथ-साथ पर्सनालिटी, ग्रूमिंग तथा एजुकेशनल बैकग्राउंड को काफी महत्त्व दिया जाता है। एविएशन से सम्बंधित इंजीनियरिंग तथा मैनेजमेंट की डिग्रीयों में प्रवेश के लिए कड़ी प्रतिस्पर्धा होती है।
 
पायलट की ट्रेनिंग इंदिरा गाँधी राष्ट्रीय उड़ान अकादमी, रायबरेली से की जा सकती है जिसमे करीब 1 करोड़ रुपये तक का खर्चा हो सकता है। एयर होस्टेस, पायलट तथा केबिन क्रू जैसे पदों के लिए हर पद पर लगभग 50-60 उम्मीदवार होते हैं।
 
अलग-अलग पदों के लिए अलग-अलग पैकेज होता है परन्तु सबसे अधिक पैकेज पायलट का होता है। कमर्शियल पायलट का मासिक पैकेज 1 लाख से 4 लाख तक हो सकता है जबकि एयर होस्टेस, केबिन क्रू और कस्टमर सपोर्ट प्रोफेशनल्स को लगभग 2 से 4 लाख तक का सालाना पैकेज मिल जाता है।
 
career in aviation industry
 


on January 12 at 9:35

Comments (0)